Home News NewElection Business

Bhandhariya Hanuman Temple

Bhandhariya Hanuman Temple

राजा महाराजाओं के समय यहाँ पर राजाओं के लिए भण्डार गृह हुवा करता था, फिर इसी स्थल पर बाद में हनुमान जी की मूर्ति स्थापना की और तभी से इस मंदिर का नाम भंडारिया हनुमान मंदिर हुवा।

 

इस मंदिर के बारे में जब यहाँ के पुजारी हरीश से पूछा गया तो उन्होंने हमें यह जानकारी दी कि कई वर्षो पूर्व राजा के दरबार मे बघी चलाने वाले को सपने मे हनुमान जी का सपना आया और वो यहाँ पर आए, उस समय यहाँ पर बास्या भील का राज था। जब यहाँ पर आए तो उन्होने पेड़ सहारे हनुमान जी की मूर्ति देखी। फिर उसके पश्यात मूर्ति को यहाँ पर स्थापित करी। अभी उनकी ही पीड़ी इस मंदिर की देख-रेख करते है।

शेयर करे

More Tourism

Search
×
;