Home News Business Covid-19

गांधी मूर्ति पर 14 हजार 200 वर्ग फीट में अंडरग्राउंड 250 वाहनाें की पार्किंग, 48 दुकानें अाैर 4 अाॅफिस होंगे

Banswara
गांधी मूर्ति पर 14 हजार 200 वर्ग फीट में अंडरग्राउंड 250 वाहनाें की पार्किंग, 48 दुकानें अाैर 4 अाॅफिस होंगे
@HelloBanswara - Banswara -

गांधी मूर्ति पर बनने वाले शाॅपिंग काॅम्पलेक्स में 48 दुकानें अाैर 4 अाॅफिस की सुविधा भी मिलेगी, 8.50 कराेड़ खर्च हाेंगे

नगर परिषद बांसवाड़ा इस साल तीन बड़े प्राेजेक्ट काे शुरू करने जा रही है। जिससे शहर की ट्रैफिक समस्या ताे दूर हाेगी ही साथ ही परिषद काे लंबे समय तक एक आय का जरिया मिलेगा। इन तीन प्राेजेक्ट में कुशलबाग मैदान और अंबामाता मार्केट के नवीनीकरण के साथ गांधी मूर्ति चाैराहे के पास बड़े शाॅपिंग काॅम्पलेक्स का निर्माण का महत्वपूर्ण प्राेजेक्ट है।

परिषद की पिछले साल हुई बाेर्ड की मीटिंग में इस शाॅपिंग काॅम्पलेक्स के निर्माण काे लेकर प्रस्ताव पास किया गया था, जिसे डीएलबी से अनुमाेदन किया जा चुका है। मार्च में निर्माण के लिए टैंडर प्रक्रिया पूरी कर अप्रेल से इसके निर्माण शुरू हाेने की पूरी संभावना है। परिषद द्वारा मुंबई के पटेल एंड पटेल आर्किटेक के माध्यम से इसकी डिजाइन और एलिवेशन तैयार कराया गया है। इसकी खासियत है कि सबसे ज्यादा भीड़भाड़ वाले इस इलाके में पार्किंग और जाम की समस्या से निजाद मिलेगी। आर्किटेक विकास पटेल ने बताया कि इसके बेसमेंट में ही 240 से 250 वाहनाें की एक साथ पार्किंग की सुविधा दी जाएगी।

इसके अलावा भी 100 से 120 दुपहिया और चाैपहिया वाहन बिल्डिंग के बाहरी क्षेत्र में पार्किंग किए जा सकते हैं। गाैरतलब है कि गांधी मूर्ति चाैराहा शहर का सबसे व्यस्ततम चाैराहा है। जहां बाहरी क्षेत्र से आने वाले लाेगाें काे अपने वाहन पार्क करने की सुविधा तक नहीं मिलती है। बेसमेंट की डिजाइन इस तरीके से की गई है कि एक ओर से एंट्री हाेगी ताे उस वाहन काे दूसरे रास्ते से ही निकलना हाेगा। एंट्री और एक्जिट अलग-अलग दी गई हैं।

ऑफिस और दुकानों से हर महीने नगर परिषद को होगी आय
ट्रैफिक और पार्किंग की समस्या ताे दूर हाेगी, इसके साथ ही परिषद काे आय का एक जरिया मिलने जा रहा है। एईएन संजय फिलीप ने बताया कि पूरा प्राेजेक्ट 8.50 कराेड़ रुपए का है। डिजाइन के अनुसार सबसे पहले बेसमेंट तैयार हाेगा, जिसकी साइज 14200 स्क्वेयर फीट है। इसके बाद ग्राउंड फ्लाेर और फर्स्ट फ्लाेर पर 24-24 दुकानें बनाई जाएंगी। वहीं सैकंड फ्लाेर पर एक दीनदयाल सभागार बनेगा और वहीं पर 4 काॅमर्शियल एरिया डेवलप किया जाएगा, जहां ऑफिस भी खाेले जा सकते हैं।

इस काॅम्पलेक्स में 3 लिफ्ट के अलावा सभी जरूरी सुविधाएं दी जाएंगी। हर फ्लाेर पर बीच में ब्यूटीफिकेशन एरिया भी हाेगा। काॅम्पलेक्स की डिजाइन और एलिवेशन आधुनिक हैं जाे मेट्राे सिटी के माॅल की तरह हाेंगे। जिससे क्षेत्र की सुंदरता भी बढ़ेगी।

प्राेजेक्ट डिटेल

  • 8.50 करोड़ लागत- ग्राउंड फ्लाेर- 9420 स्क्वेयर फीट में 24 दुकानाें का निर्माण
  • 14200 स्क्वायर फीट बेसमेंट- फर्स्ट फ्लाेर- 11 हजार 840 स्क्वेयर फीट, 24 दुकानाें का निर्माण।
  • 250 वाहनों की पार्किंग सुविधा- सैकंड फ्लाेर- 13 हजार 25 स्क्वेयर फीट, 45 गुना 70 फीट का दीनदयाल हाॅल और 35 गुणा 25 के 4 काॅमर्शियल एरिया।

काॅम्पलेक्स बनने से लाेगाें काे पार्किंग की सुविधा मिल जाएगी। कुशलबाग मैदान के चाराें तरफ भी पार्किंग स्पेस मिलने से काफी राहत मिलेगी। साथ ही पुराना बस स्टैंड पर निर्मित परिषद की दुकानाें काे भी ताेड़कर अंदर की तरफ निर्माण करने से राेड पूरा चाैड़ा हाे जाएगा। फिलहाल इस काॅम्पलेक्स के साथ अंबामाता मार्केट के नवीनीकरण का कार्य प्रक्रियाधीन है।
जैनेंद्र त्रिवेदी, सभापति नगर परिषद

शेयर करे

More news

Search
×