Home News NewElection Business

बाल श्रमिकों की रोकथाम के लिए टीम गठित

Banswara
बाल श्रमिकों की रोकथाम के लिए टीम गठित
@hellobanswara -
Pukaar Foundation

जनजाति बाहुल्य क्षेत्र में और पड़ोसी राज्यों में बाल श्रम के लिए जाने वाले बच्चों के परिवहन से संबंधित समस्याओं के निराकरण के लिए जिला कलेक्टर ने नई टीम गठित कर दायित्व सौंपे हैं। जिला मजिस्ट्रेट अंतर सिंह नेहरा ने राजस्व, पुलिस व परिवहन विभाग का उपखंड क्षेत्रवार संयुक्त दल का गठन किया है। जिसमें उपखंड अधिकारी को प्रभारी, परिवहन अधिकारी को सदस्य सचिव एवं पुलिस उपअधीक्षक को सदस्य बनाया है। एसपी काे जिले के सीमावर्ती जिले रतलाम, झाबुआ (मध्यप्रदेश), दाहोद, गोदरा, पंचमहल (गुजरात) के रास्तों पर पुलिस द्वारा सघन जांच के लिए चैक पोस्ट बनाने के निर्देश दिए हैं।

परिवहन विभाग काे ओवर लोडिंग वाहनों की जांच के साथ ही बालश्रम के लिए बच्चों के परिवहन को रोकने के लिए गाड़ियों की जांच करने के निर्देश दिए हैं। विशेष रूप से गुजरात नंबर वाली गाड़ियों की जांच करने काे कहा है। उन्होंने समस्त थानाधिकारियों को अपने-अपने क्षेत्र में बालश्रम, बाल परिवहन के संबंध में बीट अधिकारियों से सूचना एकत्रित कर नियोक्ताओं तथा बिचौलियों के खिलाफ कठोर कार्यवाही सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं। बालश्रम अथवा उसके परिवहन की जानकारी मिलती है, वहां मनरेगा तथा अन्य रोजगारोन्मुखी योजनाओं के माध्यम से संबंधित परिवारों की आजीविका की व्यवस्था सुनिश्चित की जाएगी। मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी, स्कूल शिक्षा एवं समस्त उपखंड मजिस्ट्रेटों को विद्यालय में सप्ताह दस दिन से अनुपस्थित छात्र-छात्राओं से उनके सहपाठियों से कारण पता लगाया जाएगा। अनुपस्थित बालश्रम, पलायन से संबंधित होने की आशंका पर ऐसे विद्यार्थियों की सूची प्रधानाचार्य एसडीएम काे साैंपेगे। को जिला परिषद सीईअाे को ऐसे कलस्टर, गांव, परिवारों के चिह्निकरण करने जहां बच्चों के बालश्रम में सम्मिलित होने की संभावना हो के लिए समुचित कार्यवाही सुनिश्चित करने के निर्देश िदए हैं।

शेयर करे

More news

Search
×