Home News Business Covid-19

प्रधान कांता भील ने अाईजी से कहा-लाेहारिया सीअाई काे नहीं हटाया ताे धरना-प्रदर्शन करूंगी

Banswara
प्रधान कांता भील ने अाईजी से कहा-लाेहारिया सीअाई काे नहीं हटाया ताे धरना-प्रदर्शन करूंगी
@HelloBanswara -

चुनाव के दाैरान भाजपा और कांग्रेस कार्यकर्ताअाें के बीच विवाद का मामला


गढ़ी प्रधान कांता भील मंगलवार काे सर्किट हाउस में लाेहारिया सीअाई के मामले में अाक्रामक रुख में दिखी। उन्हाेंने राज्यमंत्री अर्जुन बामनिया, अाईजी सत्यवीरसिंह अाैर एसपी कावेंद्रसिंह सागर के सामने खरी खाेटी सुनाई।

प्रधान कांता की नाराजगी लाेहारिया थानाधिकारी हनुवंतसिंह काे लेकर थी। कांता भील ने कहा कि वाे क्षेत्र में असामाजिक तत्वाें काे संरक्षण दे रहे है अाैर लाेगाें की शिकायताें काे दर्ज नहीं किया जाता। कांता भील इस बात पर अड़ी रही कि सीअाई काे जल्दी ही नहीं हटाया गया ताे वाे धरना प्रदर्शन करेंगी। अाखिरकार इस मामले में कार्यवाही का अाश्वासन मिलने पर वे सुनवाई कक्ष से बाहर अाई। प्रधान ने चुनाव के दाैरान धांधली में दूसरे पक्ष और सीअाई की मिलीभगत के आरोप भी लगाए। दूसरा पक्ष मेरे समर्थकाें को अाए दिन धमकाता हैं चुनाव के दिन भी लाेगाें का वाेटिंग नहीं करने दी गई। इनके खिलाफ कितनी शिकायतें की, लेकिन प्रशासन देखने काे तैयार नहीं है। कल ही एक महिला अाैर उसके बेटे के साथ उन लाेगाें ने मारपीट की, लेकिन उनके िखलाफ काेई कार्यवाही नहीं की गई। प्रधान ने कहा कि इतनी दादागिरी नहीं चलती, ठीक है राजनीति है, हम भी दाे दाे चुनाव हारे हैं लेकिन इस प्रकार ताे कभी नहीं किया।

जनसुनवाई में रखी समस्याएं
>आल इंडिया सेंटर फॉर अर्बन एंड रुरल डवलपमेंट संस्था के अध्यक्ष सूर्यकरण गांधी और नगर निकाय जिलाध्यक्ष ज्ञानेंद्र त्रिपाठी ने सर्किट हाउस में मंत्री बामनिया से कुशलबाग मैदान में ठेला गाड़ी लगा कर पानी पूरी बेच रहे लगभग 50 वेंडरों को हटाने से उत्पन्न रोजगार संकट पर बातचीत की। इसके साथ ही विभिन्न विभागाें में ट्रांसफर काे लेकर परिवेदना लेकर लाेग पहुंचे।
>कृषि कनेक्शन विद्युत बिलाें में सरकार द्वारा दी जा रही सब्सिडी काे हटाकर खातेदाराें के बैंक खाते में देने के संबंध में भारतीय किसान संघ ने ज्ञापन दिया। इसमें बताया कि सब्सिडी समाप्त कर सीधे खातेदाराें के खाते में ट्रांसफर करने की याेजना से हम किसान संघ सहमत नहीं है। इस याेजना काे बांसवाड़ा जिले में लागू करना न्याय संगत नहीं क्याेंकि यह जिला जनजाति बहुल क्षेत्र है। यहां के किसान सब्सिडी युक्त बिल भी समय से नहीं भर पाते हैं। इसके अलावा किसान संघ ने रबी गेंहू मक्का की फसल के लिए खरीद केंद्र खाेलने की मांग की है।

यह है विवाद का पूरा मामला
पंचायत चुनाव के पहले चरण के गढ़ी पंचायत समिति के चुनाव के दाैरान मतदान के पहले दिन रात काे भाजपा अाैर कांग्रेस कार्यकर्ताअाें के बीच विवाद हाे गया था। इस मामले में दाेनाें पक्षाें ने लाेहारिया थाने में जाकर रिपाेर्ट दी थी, लेकिन प्रधान कांता का अाराेप है कि सीअाई इस मामले में दूसरे पक्ष के लाेगाें का समर्थन कर रहे अाैर दाेषी हाेने पर भी काेई कार्यवाही नहीं कर रहे।

Hellobanswara Ba
शेयर करे

More news

Search
×