Home News NewElection Business

चारित्रिक मूल्यों से ही अपराध में कमी आ सकती है : एडीजे लक्ष्मीकांत वैष्णव

Pratapgarh
चारित्रिक मूल्यों से ही अपराध में कमी आ सकती है : एडीजे लक्ष्मीकांत वैष्णव
@hellobanswara -
Dream Big School

प्रतापगढ़ | जिला विधिक सेवा प्राधिकरण और भारतीय जीवन बीमा निगम कि ओर से निकटवर्ती झांसड़ी गांव के प्रसिद्ध दर्शनीय स्थल रोकड़िया हनुमान मंदिर परिसर में में विधिक जागरूकता शिविर और अभिकर्ता सम्मान समारोह रखा गया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव और एडीजे लक्ष्मीकांत वैष्णव रहे विशिष्ठ अतिथि योगेश कुमार शर्मा, अध्यक्ष जिला स्थाई लोक अदालत, प्रतापगढ़ और अखिल भारतीय मानवाधिकार निगरानी समिति के राष्ट्रीय सचिव एवं पैनल अधिवक्ता अजीत कुमार मोदी रहे। कार्यक्रम की अध्यक्षता संजय शर्मा शाखा प्रबंधक भारतीय जीवन बीमा निगम ने की। एडीजे वैष्णव ने अपने उद्बोधन में कहा कि चारित्रिक मूल्यों से ही अपराध में कमी आ सकती है। नैतिकता ही सबसे बडा कानून है हम सभी को जाति सम्प्रदाय, धर्म से ऊपर उठकर राष्ट्र निर्माण में योगदान देना चाहिए। इसी के साथ कार्यक्रम में मौजूद सभी श्रोताओं को वैष्णव ने संविधान की प्रस्तावना और मौलिक कर्तव्यों की जानकारी देते हुए बताया कि प्रत्येक व्यक्ति अपने काम को कुशलता से अवश्य करे लेकिन साथ में इस बात के लिए प्रयासरत् हो कि अपराध नहीं हो इसके लिए मुहीम स्वयं के घर से चलाई जानी होगी। बतौर नागरिक प्रत्येक व्यक्ति भारत के संविधान में जो प्रावधान दिये हुए है उनका पालन करते हुए महिलाओं और बच्चों को सुरक्षा प्रदान करें। कार्यक्रम के दौरान प्रतापगढ़ भारतीय जीवन बीमा निगम शाखा प्रतापगढ़ मे बेहतरीन कार्य करने वाले सभी अभिकर्ताओं को उपरना और माला पहना कर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम का संचालन अमित सोमानी ने किया। इस अवसर पर विकास अधिकारी नंदकिशोर, जफर अहमद, रामअवतार गुप्ता, प्रशासनिक अधिकारी भजनलाल, आभा लाहोटी, दुर्गेश मीणा, निखिल नागर, शाखा के कर्मचारी अखिल मेहरा, शाहिद खान, हेमलता, सुलोचना, ईश्वर, केसरीलाल और अभिकर्तागण श्रीनिवास शर्मा, हीरालाल, कमलसिंह, सुरेश मेघवाल, अशोक सेन, महावीर जैन, संतोष यादव, सतवीर सिंह मौजूद रहे।

शेयर करे

More news

Search
×