Home News Business Covid-19

विधायक बोले गुर्जर के पक्ष में बयान देकर भाजपा पदाधिकारियों ने पैरों पर कुल्हाड़ी मारी, महिला के बयान पलटने की बात से किया इनकार

प्रतापगढ़
विधायक बोले गुर्जर के पक्ष में बयान देकर भाजपा पदाधिकारियों ने पैरों पर कुल्हाड़ी मारी, महिला के बयान पलटने की बात से किया इनकार
@HelloBanswara - प्रतापगढ़ -

महिला ने सबूत के रूप में पुलिस को जो पेनड्राइव सौंपा, संभावित रूप से वीडियो उसी का हिस्सा, पुलिस बोली एफएसएल जांच के बाद कह सकेंगे

प्रतापगढ़। पूर्व पार्षद और भाजपा प्रत्याशी प्रहलाद गुर्जर सहित पूरी पार्टी की मुश्किलें बढ़ती नजर आ रही है। प्रहलाद गुर्जर के खिलाफ जहां प्रतापगढ़ हाल निंबाहेड़ा निवासी एक 38 वर्षीय एएनएम ने कोतवाली में दुष्कर्म और यौन शोषण का मामला दर्ज करवाया तो इसके बाद अब सोशल साइट पर गुर्जर के अश्लील वीडियो वायरल हुए हैं। माना जा रहा है कि पीड़ित महिला ने पुलिस को सबूत के रूप में जो पेनड्राइव सुपुर्द किया था यह वीडियो इस पेनड्राइव के हिस्से हो सकते हैं। हालांकि पुलिस का कहना है कि इस पेनड्राइव की एफएसएल जांच के बाद ही इन वीडियो की सत्यता सामने आ सकती है। सोशल साइट की अलग-अलग पोस्ट में कहीं एक तो कहीं तीन से चार वीडियो वायरल हुए हैं। हालांकि वीडियो वायरल होने के कुछ समय बाद ही इन सोशल साइट पेज को बंद कर दिया गया या फिर वीडियो को हटा लिया गया। पुलिस अब इन सोशल साइट चलाने वाले और वीडियो वायरल करने वालों की तलाश भी कर रही है। पूर्व पार्षद के खिलाफ कोतवाली में दुष्कर्म का मामला दर्ज होने के बाद भाजपा ने शनिवार को प्रेस वार्ता कर प्रहलाद गुर्जर का समर्थन किया था। अब जब उनका यह अश्लील वीडियो वायरल हुआ है इसके बाद भाजपा पदाधिकारियों ने मामले की जानकारी होने से ही मना कर दिया है। इसके बाद विधायक रामलाल मीणा ने प्रतिक्रिया दी है कि भाजपा ने अपने ऐसे प्रत्याशी का समर्थन करके खुद के पैरों पर कुल्हाड़ी मारी है, जनता सब देख रही है।

इधर पुलिस ने महिला के बयान पलटने की बात से किया इनकार : भाजपा का दावा था कि पीड़ित महिला की ओर से तथाकथित रूप से एक वीडियो (भास्कर इसकी पुष्टि नहीं करता है) जारी करके विधायक रामलाल मीणा के दबाव और जल्दबाजी में दुष्कर्म का मामला दर्ज करवाने की बात कही गई थी। इसको लेकर पुलिस का कहना है कि उन्हें इस संदर्भ में कोई भी वीडियो नहीं मिला है न ही महिला ने अपने बयान पलटने की कोई बात कही है। एसपी चूनाराम जाट ने बताया कि महिला पूर्व पार्षद प्रहलाद गुर्जर के खिलाफ रिपोर्ट और पेनड्राइव लेकर उनके समक्ष पेश हुई और अपने यौन शोषण की पूरी कहानी बताई। इसके बाद उन्होंने महिला को कोतवाली भेजा था। कोतवाली में जाने के बाद महिला ने अपनी रिपोर्ट दर्ज करवाई और सबूत पुलिस को सुपुर्द किए थे। पुलिस के सामने महिला के बयान हो चुके हैं अब जज के सामने कोर्ट में उसके बयान करवाए जाएंगे। महिला ने विधायक पर कोई आरोप नहीं लगाए हैं न ही अपने बयान से पलटी है।

भाजपा ने लगाया था यह आरोप, वीडियो जारी होने के बाद गुर्जर ने नहीं दी कोई प्रतिक्रिया : पूर्व पार्षद प्रहलाद गुर्जर पर दुष्कर्म और यौन शोषण का मामला दर्ज होने के बाद भाजपा की ओर से प्रेस वार्ता करके यह बयान जारी किए गए थे कि कांग्रेस और विधायक रामलाल मीणा षड्यंत्र करके गुर्जर को जानबूझकर फंसा रहे हैं। दूसरी तरफ प्रहलाद गुर्जर का भी कहना था कि विधायक राजनीतिक बदला लेने के लिए यह सब साजिशें कर रहे हैं। महिला को हथियार बनाया गया है। उनकी साफ छवि को दागदार करने की कोशिश की जा रही है। भाजपा जिला अध्यक्ष गोपाल कुमावत ने भी शनिवार को कहा था कि पूरी पार्टी प्रहलाद गुर्जर के साथ में खड़ी है। यह सब सत्तारूढ़ पार्टी की साजिश है जिसे नाकाम कर दिया जाएगा। गुर्जर के अश्लील वीडियो वायरल होने के बाद जब भास्कर ने उनसे इस संबंध में प्रतिक्रिया लेनी चाही तो उन्होंने फोन रिसीव नहीं किया। उनसे बार-बार संपर्क की कोशिश करने के बावजूद उनकी तरफ से कोई बयान नहीं आया।

वीडियो में यह आया सामने : सोशल साइट पर प्रहलाद गुर्जर के जो अश्लील वीडियो वायरल हुआ है उनमें 1 जनवरी 2001 की तारीख नजर आ रही है। इनमें महिला को ब्लर क्या हुआ है और एक वीडियो में दो से तीन वीडियो को डॉक्टर्ड यानी साथ में जोड़ा गया है। एक वीडियो में निर्वस्त्र प्रहलाद गुर्जर के साथ में एक छोटा बच्चा भी खेलता हुआ दिखाई दे रहा है। जबकि अन्य वीडियो में पहलाद गुर्जर के साथ में महिला ब्लर साइड में नजर आ रही है। मिक्स किया हुआ वीडियो 1 मिनट 10 सेकंड का है जबकि कुछ वीडियो 5 मिनट तो कुछ इस से ज्यादा वक्त के हैं। वीडियो में साउंड कुछ अस्पष्ट सा है।

 

इनका कहना है

वर्जन... 

पीड़िता ने जो पेनड्राइव दिया, उसकी एफएसएल जांच करवाई जाएगी। इसके बाद ही यह कहा जा सकता है कि सोशल साइट पर अपलोड होने वाले वीडियो इसके हिस्से हैं या नहीं। महिला की तरफ से विधायक के दबाव या जल्दबाजी में मुकदमा दर्ज करवाने जैसा कोई वीडियो या बयान हमारे पास नहीं आया है। महिला ने रिपोर्ट दी है और बयान में दुष्कर्म की बात कही है। अब कोर्ट में उसके बयान करवाए जाएंगे।

-चूनाराम जाट, एसपी, प्रतापगढ़।

 

वर्जन... 

मेरे पास हमारे भाजपा प्रत्याशी से संबंधित कोई वीडियो की जानकारी फिलहाल नहीं है। हमारे किसी कार्यकर्ता या पदाधिकारी ने भी इस संबंध में सूचित नहीं किया है। अगर इस तरह का कोई मामला आता है तो उसके बाद आगे का सोचा जाएगा।

 -गोपाल कुमावत, जिला अध्यक्ष, भाजपा।

वर्जन... 

भाजपा और प्रत्याशी मेरे और कांग्रेस के ऊपर झूठे आरोप लगा रहे हैं। भाजपा प्रत्याशी की सच्चाई सबके सामने आ चुकी है यह हमारा कोई षड्यंत्र नहीं है, उनके कर्मों का नतीजा है। भाजपा को प्रत्याशी के खिलाफ एक्शन लेना चाहिए था लेकिन वह उसी का साथ दे रही है जनता सब देखती है।

-रामलाल मीणा, विधायक, प्रतापगढ़।

शेयर करे

More news

Search
×