Home News Business Covid-19

मेडिकल, डेयरी और किराणा की दुकानें पूरे दिन खुली रख सकते हैं, लेकिन भीड़ नहीं होने दें, पुलिस बंद नहीं कराएगी

Banswara
मेडिकल, डेयरी और किराणा की दुकानें पूरे दिन खुली रख सकते हैं, लेकिन भीड़ नहीं होने दें, पुलिस बंद नहीं कराएगी
@HelloBanswara -

लॉकडाउन और धारा 144 लागू होने के बाद शहर में मेडिकल, डेयरी और किराना की दुकानों को खुली रखने की छूट दी गई है। जिन्हें पुलिस बंद नहीं कराएगी। इसको लेकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत भी स्थिति स्पष्ट कर चुके हैं। उन्होंने प्रदेश के सभी जिला कलेक्टर को निर्देश दिए हैं कि आवश्यक वस्तुएं की ब्रिकी वाली दुकानें पूरे दिन खुली रहेंगी। लोग जब चाहे सामान खरीद सकते हैं। जिन्हें पुलिस बंद नहीं करवाएगी। लेकिन हिदायद भी दी है कि भीड़ नहीं होने दें। इधर, बांसवाड़ा में इसके विपरित बाजार सूना नजर आ रहा है। यहां पर किराणा समेत कई आवश्यक वस्तुओं वाली दुकानें बंद नजर आ रही है। क्योंकि व्यापारियों में कार्रवाई का भ्रम है। जिससे आमजन को सामान लेने के लिए भटकना पड़ रहा है। वहीं प्रशासन द्वारा बाजार खुलने या आवश्यक चीजों की खरीदारी का भी कोई समय निर्धारित नहीं किया गया है।

व्यापारियों में भ्रम है कि दिनभर प्रतिष्ठान खुले रखने पर पुलिस उनके खिलाफ कार्रवाई करेगी। दरअसल, पुलिस और प्रशासन यही चाहते है बाजार में कम से कम चहल-पहल बनी रहे। जिससे की कोरोना का संक्रमण नहीं फैले। लोगाें का कहना है कि पुलिस दोपहर बाद प्रतिष्ठान बंद करवा देती है और शहर में जरूरी सामान लेने निकलने वाले लोगों को पीटा भी जा रहा है। हालांकि, इस बारे में पुलिस की ओर से यह तर्क दिया जा रहा है कि वे ऐसे प्रतिष्ठानों पर सख्ती बरतते हैं जहां एक साथ भीड़ लग जाती है। खरीददारों के बीच एक निश्चित दूरी बनाकर सामग्री ली जाए तो कोई दिक्कत नहीं है। इसके अलावा दुपहिया पर निकलने वाले उन मनचलों को ही रोका जा रहा है, जिनके घर से निकलने की कोई विशेष वजह नहीं है। ऐहतियात नहीं बरतने पर पुलिस द्वारा कई जगह पर अनावश्यक भीड़ करने वालों के खिलाफ कुछ कार्रवाई जरूर की है।

लॉकडाउन का उल्लंघन नहीं करें, आवश्यक सेवा वाले प्रतिष्ठान बंद नहीं होंगे: एसपी
एसपी केसरसिंह शेखावत ने बताया कि आवश्यक सेवाओं से संबंधित प्रतिष्ठानों को बंद नहीं किया जाएगा। लेकिन, इसका मतलब ये भी नहीं है कि धारा 144 और लॉकडाउन का उल्लंघन करेें। हमें समूह में निकलने से बचना चाहिए। कुछ दुकानों पर भीड़ जमा हो जाती है। जरुरी है कि वहां भी खरीददारों को एक-दूसरे से दूरी बनानी चाहिए। विक्रेता, व्यापारी और आमजन को भी अपनी नैतिक जिम्मेदारी निभानी होगी। सभी पुलिस कर्मियों को निर्देशित कर दिया है कि विशेष परिस्थिति में बाहर निकलने वाले लाेग भी परेशान नहीं हो।

कलेक्टर बैरवा ने कहा- डरें नहीं, जरूरी सेवाएं नहीं रहेंगी बाधित
कलेक्टर कैलाश बैरवा ने बताया कि आवश्यक सेवाओं से संबंधित प्रतिष्ठान रोजाना की तरह खुल सकते है। दोपहर बाद किराणा या दूध डेयरी बंद कराने का कोई आदेश नहीं है। कलेक्टर का कहना है कि अाम व्यापारियों काे अपने-अपने क्षेत्रों में दूध और किराणा की दुकानें खुली रखनी चाहिए, जिससे लाेगाें काे दुपहिया वाहन लेकर शहर के मुख्य बाजारों तक जाने की जरूरत नहीं पड़े।

अगर पुलिस जबरन आपकी दुकान बंद करवाती है तो हमें बताएं...
यदि आवश्यक वस्तुओं की दुकानों को पुलिस जबरन बंद कराती है तो आप कंट्रोल रूम 02962-248420, 1077 पर फोन कर सकते हैं। यदि वहां भी सुनवाई नहीं होती है तो आप हमें 9587468000 पर सूचना दें।
 

कोराेना अपडेट

659 देश में 38 प्रदेश में
बांसवाड़ा में 04 संदिग्ध अब तक, 4370 होम आइसोलेट, 04 निगेटिव

Fun Festival The
शेयर करे

More news

Fun Festival The
Search
×