Home News Business Covid-19

ग्रेग चैपल का पसंदीदा स्टूडेंट बना गुरू:बांसवाड़ा के कल्पेंद्र इंग्लैंड के क्रिकेट क्लबों को दे रहे ऑनलाइन ट्रेनिंग

Banswara
ग्रेग चैपल का पसंदीदा स्टूडेंट बना गुरू:बांसवाड़ा के कल्पेंद्र इंग्लैंड के क्रिकेट क्लबों को दे रहे ऑनलाइन ट्रेनिंग
@HelloBanswara - Banswara -

राजस्थान अंडर-16 टीम के ट्रेनर रह चुके हैं झा, कहा- ऑनलाइन काम करना बहुत चैलेंजिंग

बांसवाड़ा ने क्रिकेट जगत में अपनी नई पहचान दी है। यहां से अंतरराष्ट्रीय स्तर के खिलाड़ी-कोच निकले हैं, जो अपनी अलग-अलग जगहों पर अपनी भूमिका निभा रहे हैं। वहीं शहर के नागरवाड़ा के रहने वाले कल्पेंद्र झा अपने हुनर से विदेश के बच्चों को भी क्रिकेट के लिए ट्रेनिंग दे रहे हैं। पिछले पांच महीने से क्रिकेट कोच कल्पेंद्र झा इंग्लैंड के क्रिकेट क्लब के खिलाड़ियों को ऑऩलाइन ट्रेनिंग दे रहे हैं।

कल्पेंद्र झा प्रोफेशनल स्ट्रैंथ एंड कंडीशनिंग कोच हैं, जो इंग्लैंड के खिलाड़ी डेनिएल हिल सरे क्लब से जूनियर क्रिकेट खेलते हैं और आर्ची जो हैम्पशायर क्लब से हैं। दोनों ही खिलाड़ी 4 महीने से ट्रेनिंग ले रहे हैं। साथ ही अन्य खिलाड़ी भी लगातार जुड़ रहे हैं। कोच झा ने काफी समय तक ट्रेंनिग की पढ़ाई भी की है।

साथ ही बीसीसीआई की राजस्थान अंडर-16 टीम के ट्रैनर की भूमिका भी निभा चुके हैं। वहीं राजस्थान क्रिकेट एसोसिएशन से जुड़े हैं। कल्पेन्द्र झा ने बताया कि यहां रहकर इंग्लैंड के प्लेयर्स के साथ काम करना एक अलग अनुभव है और ऑनलाइन काम करना बहुत चैलेंजिंग है। झा कहना है कि अभी उन्हें इस फील्ड में काफी चींजे सीखनी हैं और खुद को अपडेट रखना है।

वहां ठंड ज्यादा, इसलिए वॉर्मअप भी अलग तरह से होती है
झा ने कहा कि आजकल काफी नई और फिटनेस से रिलेटेड वीडियो को देखकर प्लेयर्स वैसे ही कॉपी करने लग जाते हैं, लेकिन ऐसा नहीं है। हर प्लेयर्स और उनकी बॉडी अलग हाेती है। अलग तरीक़े से रिस्पॉन्स करती है। ट्रैनर को यह समझना होता है कि किस प्लेयर को क्या काम करना है। जिससे उसके खेल में पॉजिटिव रिजल्ट आए। कल्पेंद्र झा ने बताया कि इंग्लैंड के प्लेयर को ट्रेनिंग करवाना, वहां के मौसम और उनके खान-पान को भी देखना होता है। वहां का मौसम ठंडा होने के कारण वॉर्मअप भी अलग होता है, ट्रेनिंग में इंटेन्सिटी का भी ध्यान रखना होता। साथ ही इंजरी न हो उसका भी ध्यान रखना होता है।

झा ने बताया कि फिटनेस एजुकेशन के रूप में आगे आ रही है। एक्सरसाइज साइंस, स्पोर्ट्स रिलेटेड काफी कोर्सेज आजकल शुरू हो गए हैं। कल्पेंद्र झा ने बताया कि बांसवाड़ा में क्रिकेट की शुरुआत की और राजस्थान के लिए भी खेल चुके हैं। पहले उत्तराखंड की मदनलाल क्रिकेट एकेडमी में भी कार्य कर चुके हैं। साथ ही पूर्व भारतीय टीम के कोच ग्रेग चैपल के साथ भी कैंप कर चुके हैं। जिसमें ग्रेग चैपल के पसंदीदा स्टूडेंट रह झा रहे हैं। कल्पेंद्र झा अनूप दवे और दिशांत याग्निक को अपना आदर्श मानते हैं।

Air Fiber
शेयर करे

More news

Search
×