चालीस लाख की मांगे, दो लाख लेने को भी राजी हो गए, अब 8 सदस्य 2 दिन की पुलिस रिमांड पर

Updated on December 5, 2018 Crime
चालीस लाख की मांगे, दो लाख लेने को भी राजी हो गए, अब  8 सदस्य 2 दिन की पुलिस रिमांड पर, Banswara "Now eight members on two day police remand"

ब्लैकमेलर गिरोह के सभी 8 सदस्य 2 दिन की पुलिस रिमांड पर 
व्यापारी को पहले प्रेम झाल में फंसाकर उससे इस मामले को रफा दफा करने के लिए 40लाख की मांग कर रहे ब्लैकमेलर से मोल भाव करने के बाद 2 लाख रुपए देकर मामला रफदफा करने को भी राजी हो गए थे। लेकिन, व्यापारी ने दो लाख भी देने से इनकार करते हुए पुलिस को इसकी  जानकारी दी।

लड़कियों की मदद से एक व्यापारी को फंसाने और फिर उससे 40 लाख रुपए की मांग कर ब्लैकमेल करने वाले गिरोह के 8 सदस्यों को कोतवाली पुलिस ने सोमवार को गिरफ्तार किया। गिरोह में शामिल दो लड़कियां को शामिल किया था जिसे रतलाम से बुलाया था। वहीं दो वकील भी शामिल है। बड़ोदिया के एक किराणा व्यापारी ने पुलिस को इसकी शिकायत की थी। जिस पर पुलिस ने विशेष टीम बनाकर ब्लैकमेलर की बताई जगह पर व्यापारी को भेजा और आरोपियों को मौके से धरदबोचा। पुलिस ने मुस्लिम कॉलोनी निवासी माजिद नायक, भोपालपुरा निवासी वकील मोहम्मद जाकीर, उदयपुर निवासी वकील वसीम, मिनल, नैना उर्फ सोनू, बड़ोदिया निवासी असीम, शाहरुख मोहम्मद, बांसवाड़ा निवासी आयान को गिरफ्तार किया। 

क्या है मामला 

बड़ोदिया निवासी व्यापारी ने 2 दिसंबर को कोतवाली में रिपोर्ट दी जिसमें उसने बताया कि कुछ दिन पहले कस्बे में उसकी किराणा दुकान पर 2 लड़कियां शैंपू खरीदने आई। जहां सामान खरीदने के बाद व्यापारी को अपने जाल में फंसाने की नियत से मोबाइल काउंटर पर ही छोड़कर चली गई। कुछ समय बाद एक लड़की ने कॉल कर व्यापारी को मोबाइल भूल जाने की बात कहते हुए उसे नंबर मांगे। बाद में कार लेकर आई और अपना नाम सोनिया बताकर मोबाइल लिया। सोनिया ने मोबाइल से नियमित कॉल और व्हाट्सअप चेटिंग कर व्यापारी को अपने जाल में फंसाकर बांसवाड़ा बुलाया। जहां दोनों ही लड़कियां व्यापारी की कार में बैठ गई और वहां से एक होटल में ले गई। जहां कमरे में सेल्फी ली और जबरन संबंध बनाने की कोशिश की। लेकिन व्यापारी अपने अाप को बचाते हुए सोनिया को उदयपुर रोड उतारकर चला गया। अगले दिन 2 व्यक्ति कार लेकर व्यापारी की दुकान पर आए और सोनिया द्वारा उसके खिलाफ रिपोर्ट देने की बात कहकर सौदा कर लेने के लिए कहा। मगर प्रार्थी ने आइंदा देखने की बात कहकर उनको रवाना कर दिया। पहले तो व्यापारी ने इज्जत की खातिर किसी को बात नहीं बताई लेकिन गैंग के सदस्यों ने लगातार उसे परेशान करना शुरू कर दिया। व्यापारी ने जब अपना मोबाइल फोन बंद कर दिया, तो उसकी दुकान पर बड़ोदिया के पास पाड़लिया निवासी असीम खान दुकान पर आया और उसे वसीम वकील के भेजने की बात करते हुए मोबाइल शुरू करने की बात कही। आखिर परेशान हो चुके व्यापारी ने सारी बात दोस्तों को बताई। जिसके बाद कोतवाली पुलिस में शिकायत दर्ज कराई। 

 

पुलिस ने गिरोह के 8 सदस्यों को मंगलवार को कोर्ट में पेश किया, जहां से सभी को 2 दिन की पुलिस रिमांड पर भेज दिया गया है।

फिलहाल पुलिस सभी से यह पूछताछ कर रही है कि इसी तरह और किसी को ब्लैकमेल किया है या नहीं। वहीं दोनों युवतियां जिस होटल में ठहरी थी पुलिस वहां भी पड़ताल कर रही है।

सीआई दिलीपदान ने बताया कि दो दिन की पीसी रिमांड ली है। सोनू के नाम से आयान ही व्यापारी से मोबाइल के जरिये व्हाट्सअप पर चेट कर रहा था। धीरे-धीरे व्यापारी को फंसाया और उसे डरा करके रुपए एंठने की कोशिश की। गौरतलब है कि पुलिस ने बड़ोदिया के एक व्यापारी को प्रेम झाल में फंसाकर 40 लाख की मांग कर ब्लैकमेल करने पर 8 जनों को गिरफ्तार किया था। पकड़े गए आरोपियों में से 2 रतलाम की युवतियां है। वहीं आरोपियों में से दो वकील भी है। युवतियों ने व्यापारी की दुकान पर सामान खरीदने के बहाने गई और अपना मोबाइल वहीं छोड़ आई। बाद में उस पर कॉलकर व्यापारी से संपर्क साधा। व्यापारी का मोबाइल नंबर लेने के बाद धीरे-धीरे उसे प्रेमझाल में फंसाया। बाद में बांसवाड़ा बुलाकर एक होटल के कमरे में ले जाकर अश्लील हरकत कर सेल्फी लेने की कोशिश की। लेकिन, व्यापारी वहां से निकल गया। बाद में उसे गिरोह के सदस्यों ने डरा-धमकाकर रुपए देने दबाव बनाने की कोशिश की।



More in News

हकरू मईड़ा ने पूर्व मंत्री धनसिंह रावत पर लगाया सरकारी भूमि पर कब्जा कर अवैध निर्माण कराने का आरोप, कलक्टर और एसीबी से की शिकायत

नहीं रहीं दिल्ली की पूर्व CM शीला दीक्षित, 81 साल की उम्र में निधन, कल होगा अंतिम संस्कार

मंत्री अर्जुन बामनिया ने 70वे वन महोत्सव में पौधा लगाकर पौधरोपण कार्यक्रम का शुभारम्भ किया

Face App का उपयोग करना हो सकता है खतरनाक, पढ़े जरूर

बच्चों के आपसी विवाद में चाकूबाजी

लम्बे समय के इंतज़ार के बाद बांसवाडा जिले में एक बार फिर से मानसून ने दस्तक दी

सांसद कटारा ने वागड़ में चिटफंड कंपनियों की ठगी का उठाया मुद्दा

राजस्थान के सरकारी स्कूलों में अध्यापकों को ड्यूटी समय में बंद रखने होंगे मोबाइल

×
Hello Banswara Open in App