होम ख़बरे विडिओ इवेंट्स

खेलों से होती है सामाजिक एकता स्थापित: राज्यमंत्री बामनिया

12 Jan 2019 08:57 am

दाऊदी बोहरा समुदाय की अंतर्राष्ट्रीय एथलेटिक्स स्पर्धाएं शुरू

सामाजिक एकता को बनाए रखने में युवाओं की खेल प्रतियोगिताएं अहम भूमिका निभाती है। खेलों से प्रतिभाओं को उचित मंच प्राप्त होता है और उनके भावी जीवन को आधार प्राप्त होता है।  

यह आह्वान प्रदेश के जनजाति क्षेत्रीय विकास (स्वतंत्र प्रभार), उद्योग एवं राजकीय उपक्रम विभाग के राज्यमंत्री अर्जुनसिंह बामनिया ने दाऊदी बोहरा समुदाय की ओर से बांसवाड़ा में पहली बार डूंगरपुर मार्ग पर स्थित एम एस बी मैदान पर आयोजित हो रही अंतर्राष्ट्रीय एथलेटिक्स स्पर्धा के उद्घाटन अवसर पर बतौर अतिथि संबोधित करते हुए किया।

इस मौके पर उन्होंने मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत के पूर्व कार्यकाल में बोहरा समुदाय के अन्तर्राष्ट्रीय ख्याति के धार्मिक स्थान गलियाकोट स्थित सैयद फखरूद्दीन की दरगाह तक गुजरात और महाराष्ट्र के श्रद्धालुओं की पहुंच को सुगम करने के लिए की गई मांग को पूरा करने के लिए किए गए प्रयास और मांग के पूरा होने की जानकारी दी तथा कहा कि इस माध्यम से अब देश के अधिकाधिक श्रद्धालु इस स्थान पर पहुंच रहे हैं।  

राज्यमंत्री बामनिया ने कहा कि सौ टापूओं के शहर के रूप में ख्यात बांसवाड़ा जिला पर्यटकों के आकर्षण का केन्द्र है, ऐसे में इस अन्तर्राष्ट्रीय स्पर्धा में पहुंचने वाले खिलाड़ियों को भी इस जिले के पर्यटन स्थलों को भी आवश्यक रूप से अवलोकन करें। उन्होंने बोहरा समुदाय की इस स्पर्धा के बांसवाड़ा में होने वाले आयोजन की भव्यता की सराहना की और इसके लिए आयोजकों के प्रयासों का उल्लेख किया। 

समारोह में मुख्य अतिथि मुक़ाबिर साहेब ने भी संबोधित किया। समारोह में मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत और उप मुख्यमंत्री श्री सचिन पायलट की ओर से सफल आयोजन के लिए प्रेषित किए गए शुभकामना संदेश का प्रतिनिधि के तौर पर विकेश मेहता ने वाचन किया।

कार्यक्रम में पूर्व राजघराने के जगमालसिंह, नगरपरिषद पूर्व सभापति राजेश टेलर, समाजसेवी जैनेन्द्र त्रिवेदी, राकेश सेठिया, अशोक शुक्ला व बड़ी संख्या में बोहरा समुदाय के प्रतिनिधि उपस्थित थे। 

इस स्पर्धा में नागपुर, कोटा, कुवैत, रायपुर, दुबई, चेन्नई, इंदौर, कोलकता, हेडरी, राजकोट, बेंगलुरू, बांसवाड़ा, गोधरा, मुम्बई, मोम्बासा, नैरोबी, ड्रेसलाम, नासिक, पुणे, सिकन्द्राबाद आदि जगहों से करीब 1200 खिलाड़ी शामिल हुए हैं। इस दौरान राजस्थानी संस्कृति से ओतप्रोत सांस्कृतिक कार्यक्रम भी पेश किया। इससे पूर्व विभिन्न राज्यों एवं देशों से आए खिलाड़ियों ने मार्चपास्ट किया। इस स्पर्धा में मदरसा सैफिया बुरहानीया की ओर से दुनिया भर में संचालित 24 स्कूलों के विद्यार्थी सम्मिलित हुए हैं। इसमें खाड़ी देश और अफ्रीका, भारत, पाकिस्तान, कुवैत, दुबई, बहरीन, जैसे देशों के खिलाड़ी सम्मिलित हो रहे हैं। तीन दिन तक चलने वाली प्रतियोगिता में टी-10 क्रिकेट,  वॉलीबॉल और छात्रा वर्ग में थ्रो बॉल का आयोजन होगा। साथ ही 13 जनवरी को शहर के नई आबादी चौराहे से एमएसबी तक मैराथन दौड़ भी सुबह 8 बजे प्रारंभ होगी। यह जानकारी मुर्तजा भाई ने दी।

शेयर करे