नोटबन्दी का दूसरा वर्ष पूर्ण होने पर इसके विरोध में कांग्रेस ने दिया काला दिवस का नाम, नोटो की इस सर्जिकल स्ट्राइक

Updated on November 10, 2018 Politics
नोटबन्दी का दूसरा वर्ष पूर्ण होने पर इसके विरोध में कांग्रेस ने दिया काला दिवस का नाम, नोटो की इस सर्जिकल स्ट्राइक , Banswara "Congress announces black day's name in protest against completion of second year of notebandi"

Banswara November 10, 2018 - केंद्र सरकार द्वारा नोटबंदी जारी करने के दूसरे वर्ष को जिला कांग्रेस कमेटी ने काला दिवस के रूप में मनाते हुए इसके विरोध में बीते कल शुक्रवार को कार्यालय में विचार गोष्टी का आयोजन किया गया।

सभा को संबोधित करते हुए कार्यक्रम के मुख्य वक्ता प्रदेश सचिव जैनेंद्र त्रिवेदी ने कहा कि 8 नवंम्बर 2016 से आज तक देश की जनता भाजपा सरकार द्वारा उत्पन्न किये गए आर्थिक संकट से जूझ रही है। सरकार के इस अदूरदर्शी व अपरिपक्व कदम ने देश के सभी नागरिकों के समक्ष परेशानियां खड़ी कर दी है । किसानों व गरीब आबादी के ऊपर इस नोटबंदी का गहरा व विपरीत प्रभाव पड़ा । संपूर्ण व्यापार व उत्पादन ठप्प हो गया है,श्रमिक बेरोज़गार है । अब देखने वाली बात तो यह होगी कि बीजेपी को इस सर्जिकल स्ट्राइक यानी नोटों को चलन से बाहर करने पर जनता का आने वाले चुनाव में क्या रुख होगा ? निश्चित जनता आगामी चुनाव में भाजपा को सबक सिखाएगी और सत्ता से बाहर कर दिखाएगी।

जिला उपाध्यक्ष मुकेश जोशी ने कहा कि प्रधानमंत्री ने राष्ट्रवाद की आड़ में कालेधन के खिलाफ लड़ाई लडऩे वाले का ढोंग करके गरीब लोगों को मूर्ख बनाया है। प्रधानमंत्री को एक ऐसी रणनीति बनानी चाहिए थी कि आम आदमी को इससे परेशानी नही होती। उन्होंने कहा कि यह योजना अपने लक्ष्य को पाने में नाकाम रही है ।
संगठन मंत्री नटवर तेली ने कहा कि नोटबंदी कालेधन को रोकने के लिए थी लेकिन सरकार ने जिस तरह से यह कदम उठाया, उससे आम जनता को परेशानी हुई। यह कहां की नीति है कि बिना कोई नीति बनाए ही ऐसा फैसला थोप दिया जाए जिससे आम जनता कराह उठे, आम जनता की इस परेशानी में कांग्रेस पार्टी हमेशा उनके साथ थी है और रहेगी । नोटबन्दी के तीनों मकसद जो सरकार ने कहे थे क्रमशः कालाधन की वापसी, आतंकी फंडिंग पर रोक और नकली नोटों के प्रचलन पर रोक और इसके बाद चौथा फायदा की मंहगाई पर नियंत्रण होगा सभी बातें असफल साबित हुई है ।
ज़िला प्रवक्ता एडवोकेट इमरान खान पठान ने जानकारी दी कि सभा को डॉ एलसी मईड़ा व मनीष देव जोशी ने भी संबोधित किया । 
इस दौरान ये भी उपस्थित रहे :-
पूर्व विधायक अर्जुन सिंह बामनिया, देवबाला राठौड़, राजेश टेलर,शैलेन्द्र वोरा, नरेंद्र कट्टू, कमला शंकर मईड़ा, नवाब फ़ौज़दार, सुरेश कलाल, अरविंद डामोर, बलवंत वसीटा, अब्दुल वहीद चौहान, निखिलेश श्रीमाल, तौसीफ नायक, जितेंद्र परिहार, उर्विष पाठक, रामलाल मईड़ा, शफीक मंसूरी, डायालाल गर्ग, शाहरुख खान, आसिफ खान, मुजम्मिल अहमद, हेमन्त मईड़ा, सुमित चावला, फिरोज खान, एजाज मंसूरी, लव कुमार योगेश्वर, कमलेश आर्य, आसिफ मुस्तफा खान आदि उपस्थित रहे ।



Fun Festival

×
Hello Banswara Open in App