Home News Business

क्या है एनआईए (NIA) ?

National
क्या है एनआईए (NIA) ?
@HelloBanswara - National -

भारत में आतंकवाद को समाप्त करने के लिए एनआईए (NIA) (National Investigation Agency) का गठन किया गया है | वर्ष 2008 में भारत पर मुंबई हमला हुआ था | जिसके बाद एक जाँच एजेंसी की आवश्यकता हुई जो केंद्र सरकार के अधीन हो और वह आतंकवादी गतिविधियों पर नजर बना कर उनको विफल कर सके | इसका गठन आतंकवाद को धन उपलब्ध कराने ,आतंकी हमलों की घटनाओं और उससे जुड़े लोगों की जाँच करना है | 

NIA Full Form in Hindi

N – National (राष्ट्रीय)

– Investigations (जांच)

A – Agency (एजेंसी)


एनआईए (NIA) क्या है?

एनआईए एक राष्ट्रीय जांच एजेंसी है जिसका गठन भारत सरकार द्वारा भारत में होने वाले आतंक के मुकाबले को रोकने के लिए किया गया था। NIA का गठन एनआईए अधिनियम 2008 के तहत किया गया था जब भारत के मुंबई शहर में 2008 में आतंकवादी हमला हुआ था और इस आतंकवादी हमले के बाद सरकार ने केंद्रीय एजेंसी के रूप में इस संस्था को स्थापित किया गया था।

इस एजेंसी में हजारो कर्मचारी है और यह जाँच एजेंसी गृह मित्रालय के अंतर्गत आती है और यह राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) केंद्रीय काउंटर टेरिजम लॉ एनफोर्समेंट  एजेंसी के रूप में कार्य करती है। NIA Agency राज्य के किसी भी अनुमति के बिना देश भर में किसी भी आतंकवादी सम्बंधित मामलों में जांच करने के लिए बाध्य नहीं है। हलाकि केंद्र सरकार और राज्य सरकार मामलों की जाँच करने के लिए NIA का अनुरोध कर सकती है।

एनआईए के पास कितनी ताकत

देश भर की अन्य एजेंसियों की अपेक्षा एनआईए को सरकार द्वारा विशेष अधिकार प्रदान किये है। देश में आतंकवाद, देश विरोधी गतिविधियां या युद्ध छेड़ने, परमाणु ठिकानों से जुड़े अपराधों में जांच का एनआईए के पास अधिकार होता है। एनआईए सीधे केंद्र सरकार के आदेश पर काम करती है, उसे किसी भी राज्य सरकार की अनुमति की जरूरत नहीं होती है। इसके अलावा, एनआईए देश-विदेश कहीं भी जाकर भारतीयों के खिलाफ हुए अपराध/आतंकवाद से जुड़े अपराधों की जांच कर सकती है। माना जाता है कि एनआईए को अमेरिकी खुफिया एजेंसी एफबीआई के तरह के अधिकार प्राप्त हैं।


भारत की सुरक्षा एजेंसी एनआईए का विजन क्या है? (NIA Vision Mission)

एनआईए का मुख्या कार्य आतंकवाद और आतंकवादी गतिविधियों से संबधित मामलों की जांच करना या आतंकवादी हमले के विरूद्ध लड़ने के लिए रणनीतियां या बनाना।

NIA अन्य देशों के आतंकवाद संबंधित कानूनों के बारे में अध्ययन करना समझना और उसके बारेमें विश्लेषण करना फिर भारत के मौजूदा कानूनों की प्रभावकारिता देख उन कानूनों का बदलाव करने की प्रस्तावना करना होता है।

भारत देश की सुरक्षा, राज्य की सुरक्षा और अखंडता का रक्षण करना और उसे नुकसान पोहचाने वाले अपराधियों की जांच करना और उसपे मुकदमा चलना है।
अन्य विदेशी राज्यों और अन्य आंतराष्ट्रीय संगठनों के साथ सबंध स्थापित करके उन्हें कायम रखना भी है।

ज़्यादा जानकारी के लिए आप इस (https://www.nia.gov.in/) वेबसाइट पर विजिट कर सकते है।


एनआईए मुख्यालय और क्षेत्रीय शाखाएं

मुख्यालय (NIA Headquarters) – नई दिल्ली (New Delhi)

क्षेत्रीय शाखाएं

  • हैदराबाद (Hyderabad)
  • गुवाहाटी (Guwahati)
  • कोची (Kochi)
  • लखनऊ (Lucknow)
  • मुंबई (Mumbai)
  • कोलकाता (Kolkata)
  • रायपुर (Raipur)
  • जम्मू (Jammu)


एनआईए में कौन काम करता है?
NIA के लिए अधिकारियो को भारतीय राज्य सेवा, भारतीय पुलिस सेवा आयकर विभाग के साथ-साथ केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बालों जैसे BSF, CRPF, ITBP इत्यादि स भी चुनाव होता है। और इसके अलावा परीक्षा (सरकारी एग्जाम) के माध्यम से भी NIA के लिए भर्तियां होती रहती है।


एनआईए और सीबीआई में अंतर (Difference Between NIA and CBI)

National Investigation Agency (NIA)Central Bureau of Investigation (CBI)
यह भारत सरकार के अधीन कार्य करती है। NIA का गठन 31 दिसम्बर 2008 को मुंबई आतंकी हमले के पश्चात हुआ था।यह भारत की राष्ट्रीय जांच एजेंसी है यह भारत सरकार के अधीन कार्य करती इसका गठन 1941 द्रितीय विश्व युद्ध के दौरान हुआ था।
NIA के कार्य: भारत में होने वाली आतंकवादी गतिविधियों पर नजर रखना और उनकी जांच करना भारत में आतंकवादी हमलों घटनाओं को रोकना आतंकवाद को रोकने और खत्म करनाCBI के कार्य: सीबीआई का कार्य आतंकवाद को छोड़ कर भ्रस्टाचार, अन्य गंभीर अपराध या संगठन अपराधों की जांच और अन्वेषण का काम CBI करती है। उदाहरण के तौर पर मानलो अगर कहीं घोटाला हुआ है, कही कोई बड़ा अपराध हुआ हैं या किसी की हत्या हुई है अगर पीड़ित पक्ष द्वारा सुप्रीम कोर्ट में या हाई कोर्ट में अपील की जाती है की मामले की सीबीआई जांच हो तो वह पर सीबीआई जाँच कर सकती है।


क्या हैं अधिकार: नेशनल इंवेस्टिगेशन एजेंसी के अधिकारों की बात करें तो यह एजेंसी देश के बाहर जाकर भी मामले में जांच कर सकती है। यदि किसी आरोपी का एनआईए की कोर्ट में ट्रायल जारी है तो उसे किसी अन्य अदालत/मामले में पेश होने से रोका जा सकता है। इसके अलावा यदि किसी आरोपी को कमजोर सबूतों के आधार पर कोर्ट जमानत देना चाहती है तो एनआईए स्वतः संज्ञान लेकर बंद लिफाफे में सबूत या मामले से जुड़ी अन्य जानकारी साझा कर सकती है।


एनआईए में नौकरी कैसे पाए (How Find Job In NIA)?

एनआईए में भर्ती प्रक्रिया कर्मचारी चयन आयोग के द्वारा की जाती है, आवश्यकता के अनुसार भर्ती प्रकिया की जाती है | राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) में सब– इंस्पेक्टर (एसआई) के पदों पर भर्ती संयुक्त स्नातक स्तर (सीजीएल) परीक्षा के माध्यम से की जाती है | आप एसएससी की स्नातक स्तर परीक्षा की तैयारी कर के एसआई के पद पर चयनित हो सकते है |

एनआईए में एसआई के लिए शैक्षिक योग्यता (Qualification)

अभ्यर्थी को मान्यता प्राप्त संस्थान से किसी भी संकाय में स्नातक की परीक्षा उत्तीर्ण होना अनिवार्य है |

वेतन (Salary)

सब– इंस्पेक्टर (एसआई) के पद के लिए वेतन भारतीय शहरों के अनुरूप अलग- अलग है | श्रेणी X शहरों के लिए यह वेतन शुरुआत में 43166/– रु. प्रति माह है और श्रेणी Y शहरों के लिए यह वेतन शुरुआत में 39492/- प्रति माह और श्रेणी Z शहरों में वेतन 37664/– रु. प्रति माह होता है |

Ground Water
शेयर करे

More article

Search
×