Home News Business

Vastu Tips: इन नियमों का करें पालन, दूर होंगे वास्तु दोष

National
Vastu Tips: इन नियमों का करें पालन, दूर होंगे वास्तु दोष
@HelloBanswara - National -

भारतीय वास्तु शास्त्र पृथ्वी, जल, वायु, अग्नि और आकाश इन पाँच तत्वों पर आधारित हैं। इनमें से किसी की भी कमी के कारण चीज़े बिगड़ने लग जाती हैं । यदि आपके जीवन में या आपके व्यापार में तमाम कोशिशों के बाद भी समस्या आ रही हों और लाभ की जगह घाटा ही हो रहा हों , तो फिर एक बार वास्तु दोष पर भी नज़र डालें । वास्तु दोष कुछ उपायों से सही किया जा सकता हैं। 
वास्तु शास्त्र के मुताबिक घर बनाना शुभ माना गया हैं। प्राचीन काल से ही वास्तु शास्त्र को महत्त्वपूर्ण माना गया हैं । इसके अनुसार बनाएं घर में हमेशा ख़ुशनुमा माहौल रहता हैं । वास्तु शास्त्र बताता है की घर का निर्माण कैसा होना चाहिए । घर बनाते वक़्त हमेशा वास्तु का ध्यान देना चाहिए । इससे वास्तु दोष भी उत्पन्न नही होतें। आइए जानतें है कुछ टिप्स :
घर में कभी भी बाथरूम और किचन पास-पास न बनवाए। जिन लोगों के घरों में किचन और बाथरूम पास-पास बने होतें हैं, उन्हें कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए। उपयोग न होने पर बाथरूम का दरवाजा हमेशा बंद रखें और अगर दरवाज़ा न हो तो पर्दा डाल दें।
ऐसा करने से बाथरूम की नकारात्मक ऊर्जा किचन में प्रवेश नहीं करती है। बाथरूम का दरवाजा खुला होने से हानिकारक सूक्ष्म कीटाणु किचन में प्रवेश कर लेते हैं और खाने की चीजों को खराब कर देतें हैं। इससे स्वास्थ पर भी विपरीत असर पड़ सकता हैं। इसलिए बाथरूम का दरवाजा बंद ही रखना चाहिए।
घर में कांटे वाले, दूध निकलने वाले और विषैले पेड़-पौधे बिलकुल न लगाएँ मान्यता है कि इनसे घर में नकारात्मकता बढ़ती है। घर में तुलसी, मनी प्लांट, शमी के पौधे लगाना शुभ माना जाता हैं। इनसे घर में पॉजिटिविटी बढ़ती है, वातावरण पवित्र रहता है।
किचन में आग और पानी एक साथ नहीं रखना चाहिए। यह दोनों तत्व एक-दूसरे से एकदम विपरीत होतें हैं। इन दोनों को अलग-अलग जगहों पर ही रखना चाहिए। इनके बीच दूरी होना आवश्यक हैं।
वास्तु के अनुसार घर में साफ-सफाई का होना बहुत ज़रुरी हैं, गंदगी की वजह से वास्तु दोष बढ़ता हैं। घर का कोना-कोना एकदम साफ होना चाहिए।

Ground Water
शेयर करे

More article

Search
×